कल हो न हो Kal Ho Naa Ho Lyrics – Sonu Nigam

Kal Ho Naa Ho Lyrics – Sonu Nigam



Kal Ho Naa Ho Lyrics, Song is a title song from Kal Ho Naa Ho movie 

Song: Kal Ho Naa Ho
Movie: Kal Ho Naa Ho
Singer: Sonu Nigam
Music: Shankar Ehsaan Loy
Lyrics: Javed Akhtar

Kal Ho Naa Ho Lyrics in English


Har ghadi badal rahi hai roop zindagi
Chaanv hai kabhi, kabhi hai dhoop zindagi
Har pal yahan
Jee bhar jiyo jo hai samaa
Kal ho naa ho
Har ghadi badal rahi hai roop zindagi
Chaanv hai kabhi, kabhi hai dhoop zindagi
Har pal yahan
Jee bhar jiyo jo hai samaa
Kal ho naa ho

Chaahe jo tumhe poore dil se
Milta hai woh mushkil se
Aisa jo koi kahin hai
Bas wohi sabse hasin hai
Uss haath ko tum thaam lo
Woh meherbaan kal ho naa ho
Har pal yahaan
Jee bhar jiyo jo hai samaa
Kal ho naa ho

Palko ke leke saaye
Paas koi jo aaye
Lakh sambhalo paagal dil ko
Dil dhadke hi jaaye
Par soch lo is pal hai jo
Woh daastan kal ho naa ho

Har ghadi badal rahi hai roop zindagi
Chaanv hai kabhi, kabhi hai dhoop zindagi
Har pal yahan
Jee bhar jiyo jo hai samaa
Kal ho naa ho
Har pal yahan
Jee bhar jiyo jo hai samaa
Kal ho naa ho

Jo hai samaa kal ho naa ho



Kal Ho Naa Ho Lyrics in Hindi


हर घड़ी बदल रही है रूप ज़िंदगी
छाँव है कभी, कभी है धूप ज़िंदगी
हर पल यहाँ जी भर जियो
जो है समाँ कल हो न हो

हर घड़ी बदल रही है रूप ज़िंदगी
छाँव है कभी, कभी है धूप ज़िंदगी
हर पल यहाँ जी भर जियो
जो है समाँ कल हो न हो

चाहे जो तुम्हें पूरे दिल से
मिलता है वो मुश्किल से
ऐसा जो कोई कहीं है
बस वो ही सबसे हसीं है

उस हाथ को तुम थाम लो
वो मेहरबाँ कल हो

न हो हर पल यहाँ जी भर जियो
जो है समाँ कल हो न हो

हो पलकों के ले के साये
पास कोई जो आये
लाख सम्भालो पागल दिल को
दिल धड़के ही जाये

पर सोच लो इस पल है जो
वो दास्ताँ कल हो न हो

हर घड़ी बदल रही है रूप ज़िंदगी
छाँव है कभी, कभी है धूप ज़िंदगी
हर पल यहाँ जी भर जियो
जो है समाँ कल हो न हो

हर पल यहाँ जी भर जियो
जो है समाँ कल हो न हो

जो है समाँ कल हो न हो..