बहु कल्लू की Bahu Kallu Ki Lyrics – Shekhar Saini

Bahu Kallu Ki Lyrics – Shekhar Saini


Bahu Kallu Ki Lyrics – “ Bahu Kallu Ki ” A Latest New Haryanvi Song 2020.


Title Song :- Bahu Kallu Ki
Singer :- Shubham Saharanpurya
Artist :- Shekhar Saini, Riyanshu Gujjar, Ibrahim 420 & Team
Lyrics :- Shiv Kumar Pajapati
Music Director :- Mb Music

Bahu Kallu Ki Lyrics in Hindi 



देख के तेरी चाल कसूती मूह मे आगया पानी



(मूह मे आगया पानी)



छम-छम करती जब तू चाल बूढ़े मांगे जवानी



(बूढ़े मांगे जवानी)



देख के तेरी चाल कसूती मूह मे आगया पानी 



छम-छम करती जब तू चाले बूढ़े मांगे जवानी



र बैरण खोल दे न घूँघट माहरा दिलड़ा धडक स



बैरण खोल दे न घूँघट माहरा दिलड़ा धडक स…….



देख के तेरी चाल कसूती मूह मे आगया पानी 



छम-छम करती जब तू चाले बूढ़े मांगे जवानी



र बैरण खोल दे न घूँघट माहरा दिलड़ा धडक स



बैरण खोल दे न घूँघट माहरा दिलड़ा धडक स…….



कल्लू की तू बहू मटकती जब चाले न गाला मे



देख देख के तने ये हबसी जा पड़ते नाला मे



कल्लू की तू बहू मटकती जब चाले न गाला मे



देख देख के तने ये हबसी जा पड़ते नाला मे



अरे मरजाणी तने देख के इनमे घुतम-घुता होरी



ये बता घूँघट खोलण का के लेगी स गोरी



र बैरण खोल दे न घूँघट माहरा दिलड़ा धडक स



बैरण खोल दे न घूँघट माहरा दिलड़ा धडक स…….



तेरे बरगी हूर न दूज्जी ओर अड़ मिल पाणि 



शुभम सहरणपुरिया मरग्या तेरी देख अदा मस्तानी



तेरे बरगी हूर न दूज्जी ओर अड़ मिल पाणि 



शुभम सहरणपुरिया मरग्या तेरी देख अदा मस्तानी



तेरी जवानी का रस टपके जण गन्ने बरगी पौरी



देख उरे न एक नजर क्यूँ जलके होरी झोरी



र बैरण खोल दे न घूँघट माहरा दिलड़ा धडक स



बैरण खोल दे न घूँघट माहरा दिलड़ा धडक स 



देख के तेरी चाल कसूती मूह मे आगया पानी 



छम-छम करती जब तू चाले बूढ़े मांगे जवानी



र बैरण खोल दे न घूँघट माहरा दिलड़ा धडक स



बैरण खोल दे न घूँघट माहरा दिलड़ा धडक स…….



सुण बैरण…राम राम



बहू, ऐ बहू



आई माँ जी