माल्टा Malta – Amit Saini Rohtakiya

Malta Lyrics in Hindi – This is a new Haryanvi song sung by Amit Saini Rohtakiya. Lyrics of Malta song are written by KP Kundu and Bintu Pabra. Music by GR Panipat and music label is Amit Saini Rohtakiya.

Song – Malta
Singer – Amit Saini Rohtakiya
Lyrics – KP Kundu, Bintu Pabra
Music – GR Panipat
Label – Amit Saini Rohtakiya

Malta Lyrics in Hindi

                                                                                                                                     
जब याद तेरी मेरी गैल गैल होवै सै 
रै मेरे 5 बजे पाछै कुत्ते फ़ैल होवै सै
हो गोझ के माह भुगड्या के पड़े पॉलिथीन
हो गोझ के माह भुगड्या के पड़े पॉलिथीन 
अरै चारू पासे बीड़ियाँ के टोटके पड़े
तेरे जाये पाछै यारा की बचागे ज़िन्दगी 
जो खाट नीचै माल्टा के अद्धिए पड़े 
तेरे जाये पाछै यारा की बचागे ज़िन्दगी 
जो खाट नीचै माल्टा के अद्धिए पड़े
अमित सैणी रोहतकिया !
                                                                                                                                     
रै या कितै भी नि जांदी पावै हर टैम त्यार 
तेरे मिन्टा म बदले अंदाज रै 
अरै फेर मेरे साथी बणे काँच के गिलास 
अरै मूली और पत्या आली प्याज रे
या कितै भी नि जांदी पावै हर टैम त्यार 
तेरे मिन्टा म बदले अंदाज रै 
अरै फेर मेरे साथी बणे काँच के गिलास 
अरै मूली और पत्या आली प्याज रे
पैग मोटे मोटे मार मन्नै दाब दिए सारे 
पैग मोटे मोटे मार मन्नै दाब दिए सारे 
खाब तीन चार दिन तेरे आये थे बड़े
तेरे जाये पाछै यारा की बचागे ज़िन्दगी 
जो खाट नीचै माल्टा के अद्धिए पड़े 
तेरे जाये पाछै यारा की बचागे ज़िन्दगी 
जो खाट नीचै माल्टा के अद्धिए पड़े
रै यो पाबड़ा किनाला तन्नै कोसै भुंडी ढाला 
अरै बैठ ग्या मैं दिल पै रै चोट खाकै नै 
अरै टूट लिया दिल करै के.पी, बिंटू चिल 
अरै भूखे कोन्या सोन्दे, सोवा रोट खाकै नै
यो पाबड़ा किनाला तन्नै कोसै भुंडी ढाला 
अरै बैठ ग्या मैं दिल पै रै चोट खाकै नै 
रै मेरा टूट लिया दिल करै के.पी, बिंटू चिल 
अरै भूखे कोन्या सोन्दे, सोवा रोट खाकै नै
दिन के माह 13-14 खाली करा सा 
दिन के माह 13-14 खाली करा सा 
बाकी लोगा की तरह कोन्या बणे बेवड़े
अरै तेरे जाये पाछै यारा की बचागे ज़िन्दगी 
जो खाट नीचै माल्टा के अद्धिए पड़े 
रै तेरे जाये पाछै यारा की बचागे ज़िन्दगी 
जो खाट नीचै माल्टा के अद्धिए पड़े