Sinner lyrics in Hindi and English king

Sinner lyrics in Hindi and English king

Song Sinner

Singer(s) King
Lyrics King
Music Enzo
Music Label King

Sinner Lyrics

Haathon me jaam hain
Hum roz peete hain
Par dil nahi bhara
Jhele nuksaan hai
Par kisi ka chheen
Apna fayda nahi kara

Haathon me jaam hain
Hum roz peete hain
Par dil nahi bhara
Jhele nuksaan hai
Par kisi ka chheen
Apna fayda nahi kara

Hey hey hey
Qatle aam hain
Jinhone bhi pichhe
Mere baare hain kara
Hey hey hey
Mujhpe ilzaam hain
Ke maine phir se
Saccha pyaar nahi kara
Hey

Aaj mujhe sab kuch de rahe ho
Kal mujhse sab kuchh le loge
Main puchhta rahunga ke galti kya
Par mujhse tum kuchh bhi naa bologe
Bas tabhi main door hi rehta hon
Dil se hi likhta aur kehta hoon
Ke joh hain bana khud zero se
Usse ab kya hi tum le loge

Ke mere jaisa main bas ek
Main hoon cheez akhiri
Yeh ghamand nahi hain jana
Yeh hain baat yaar ki

Ke main chala joh mere sath
Duniya saari chaal padi
To woh bhi chhod aa gayi thi
Galiyan apne yaar ki

Jeena haraam hain
Woh gussa hoke kehti
Raja nahi mila
Yehi anjaam hain
Ke maine phir se
Saccha pyaar nahi kara
Aye aye

Haathon me jaam hain
Hum roz peete hai
Par dil nahi bhara
Hey hey hey
Jhele nuksaan hai
Par kisi ka chheen
Apna fayda nahi kara

Hey hey hey
Qatle aam hain
Jinhone bhi pichhe
Mere baare hain kara
Hey hey hey
Mujhpe ilzaam hain
Ke maine phir se
Saccha pyaar nahi kara
Hey

Hum bhi the jhaank rahe
Duniya ko paise se tap rahe
Kal thi dilli waali sath toh aaj
Jaipur wali baith ke taak rahe

Kamre ki chaar diwari se hoke
Nikle aaj farsh saare nap rahe
After party hoti aisi ke sari
Bandiyon ke munh pe ho bap re

Maano meri rakhna
Mujhse thoda fasla
Hoga ek hi ishara
Chaal padega kafila

Be dili bhi kar li maine
Poori duniya se laada
Jab mere andar ke bhagwan se
Shaitan aa mila

Laaga di aag bhi
Yeh duniya phunk gayi
Par raaja nahi jala
Hahaha

Aur uske baad bhi
Woh gussa hoke kehti
Raja nahi mila
Aye aye

Haathon me jaam hain
Hum roz peete hai
Par dil nahi bhara
Hey hey hey
Jhele nuksaan hai
Par kisi ka chheen
Apna fayda nahi kara
Hey hey hey

Qatle aam hain
Jinhone bhi pichhe
Mere baare hain kara
Hey hey hey
Mujhpe ilzaam hain
Ke maine phir se
Saccha pyaar nahi kara
Hey

Sinner Lyrics In Hindi – King

हाथों में जाम है,
हम रोज़ पीते हैं,
पर दिल नहीं भरा |
झेले नुक्सान हैं,
पर किसी का छिन,
अपना फायदा नहीं करा ||

हाथों में जाम है,
हम रोज़ पीते हैं,
पर दिल नहीं भरा ||

हे हे हे |

झेले नुक्सान हैं,
पर किसी का छिन,
अपना फायदा नहीं करा ||

हे हे हे |

कत्ले आम है,
जिन्होंने भी पीछे,
मेरे वारे है करा ||

हे हे हे |

मुझपे इलज़ाम है,
के मैने फिर से,
सच्चा प्यार नहीं करा ||
हे

आज मुझे सब कुछ दे रहे हो,
कल मुझसे सब कुछ ले लोगे |
मैं पुछता रहूंगा के गलती क्या,
पर मुझसे तुम कुछ भी ना बोलोगे |

बस तभी मैं दूर ही रहता हूं,
दिल से ही लिखता और कहता हूं |
के जो है बना खुद जीरो से,
उसेसे अब क्या ही तुम ले लोगे ||

के मेरे जैसा मैं बस एक,
मैं हूं चीज आखिरी |
ये घमंड नहीं है जाना,
ये है बात यार की ||

के मैं चला जो मेरे साथ,
दुनिया सारी चल पड़ी |
तो वो भी छोड़ आ गई थी,
गलियां अपने यार की ||

जीना हराम है,
वो गुस्सा होके कहती,
राजा नहीं मिला ||

यही अंजाम है,
के मैने फिर से,
सच्चा प्यार नहीं करा ||
ऐ ऐ

हाथों में जाम है,
हम रोज़ पीते हैं,
पर दिल नहीं भरा ||

हे हे हे |

झेले नुक्सान हैं,
पर किसी का छिन,
अपना फायदा नहीं करा ||

हे हे हे |

कत्ले आम है,
जिन्होंने भी पीछे,
मेरे वारे है करा ||

हे हे हे |

मुझपे इलज़ाम है,
के मैने फिर से,
सच्चा प्यार नहीं करा ||

हे हे हे |

कत्ले आम है,
जिन्होंने भी पीछे,
मेरे वारे है करा ||

हे हे हे |

मुझपे इलज़ाम है,
के मैने फिर से,
सच्चा प्यार नहीं करा ||

हे हे हे |

हम भी थे झाँक रहे,
दुनिया को पैसो से ताप रहे |
कल थी दिल्ली वाली साथ तो आज,
जयपुर वाली बैठ के ताक रहे ||

कमरे की चार दिवारी से होके,
निकले आज फर्श सारे नाप रहे |
आफ्टर पार्टी होती ऐसी के सारी,
बंदियों के मुँह पे हो बाप रे ||

मानो मेरी रखना,
मुझसे थोड़ा फासला |
होगा एक ही इशारा,
चल पडेगा कफिला ||

बेदिली भी कर ली मैंने,
पूरी दुनिया से लडा |
जब मेरे अंदर के भगवान से,
शैतान आ मिला ||

लगा दी आग भी,
ये दुनिया फूंक गई,
पर राजा नई जला ||

हाहाहा

और उसके बाद भी,
वो गुस्सा होके कहती,
राजा नहीं मिला ||

हे हे हे |

हाथों में जाम है,
हम रोज़ पीते हैं,
पर दिल नहीं भरा ||

हे हे हे |

झेले नुक्सान हैं,
पर किसी का छिन,
अपना फायदा नहीं करा ||

हे हे हे |

कत्ले आम है,
जिन्होंने भी पीछे,
मेरे वारे है करा ||

हे हे हे |

मुझपे इलज़ाम है,
के मैने फिर से,
सच्चा प्यार नहीं करा ||
हे